3 महीने में तीसरा केस, नहाते हुए बच्चे के शरीर में घुसा दिमाग खाने वाला अमीबा, तड़प-तड़पकर मौत

केरल
केरल से एक दुखद घटना सामने आई है। तालाब में नहाते वक्त 14 साल के एक बच्चे के नाक में दिमाग खाने वाला अमीबा घुस गया। इस तरह अमीबा उसकी नाक से शरीर में प्रवेश कर गया। दिमाग में दुर्लभ संक्रमण हो जाने से उसकी उपचार के दौरान मौत हो गई। तीन महीने में इस तरह से मौत का यह तीसरा मामला है। सरकार इस मामले में अलर्ट हो गई है। इससे पहले यह बीमारी 2023 और 2017 में राज्य के अलप्पुझा जिले में देखी गई थी।

डॉक्टरों के अनुसार, बच्चे के मस्तिष्क में दु्र्लभ ‘अमीबिक मेनिंगोएन्सेफलाइटिस‘ संक्रमण प्रवेश कर गया था। इससे ग्रस्त 14 वर्षीय बालक ने एक निजी अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। यह बीमारी दूषित जल में पाए जाने वाले जीवित अमीबा के कारण होती है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक, अमीबिक एन्सेफलाइटिस दुर्लभ और अत्यधिक घातक संक्रमण है जो झीलों और नदियों में पाए जाने वाले अमीबा के कारण होती है।

तीन महीने में तीसरी मौत
केरल के स्वास्थ्य विभाग ने बृहस्पतिवार को बताया कि मृदुल नामक बालक की मृत्यु बुधवार रात करीब 11:20 बजे हुई। केरल में मई से लेकर अब तक इस घातक संक्रमण का यह तीसरा मामला है। पहली घटना 21 मई को मल्लपुरम में पांच वर्षीय बच्ची की मौत की थी और दूसरी घटना में 25 जून को कन्नूर में 13 वर्षीय बालिका की मृत्यु हो गई थी।

सरकार अलर्ट
स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों के मुताबिक बच्चा यहां एक छोटे तलाब में नहाने गया था और अब एहतियाती कदम उठाए जा रहे हैं। चिकित्सा विशेषज्ञों ने बताया कि परजीवी अमीबा के बैक्टीरिया जब दूषित पानी से नाक के माध्यम से शरीर में प्रवेश कर जाते हैं तो यह संक्रमण होता है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने लोगों को ‘अमीबिक मेनिंगोएन्सेफेलाइटिस’ को लेकर सावधानी बरतने की सलाह दी है।