बिहार-पूर्णिया के नवोदय विद्यालय में छात्र ने लगाई फांसी

पूर्णिया.

पूर्णिया में नवोदय विद्यालय के 10 वीं कक्षा के एक छात्र की लाश मिली है। विद्यालय परिसर में ही आम के पेड़ से उसकी लाश लटक रही थी। स्कूल प्रबंधन का दावा छात्र ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। छात्र ने स्कूल परिसर में ही आम का पेड़ में लटककर अपनी जान दे दी है। इधर, घटना के बाद परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है। परिजनों ने छात्र की हत्या का आरोप लगाया है।

मामले की जानकारी मिलने के बाद पुलिस घटनास्थल पहुंचकर लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए पूर्णिया जीएमसीएच भेज दिया और मामले की जांच पड़ताल में जुट गई है। वहीं एफएसएल की टीम घटनास्थल की  जांच करने के लिए मौके पर पहुंची है। घटना पूर्णिया जिले के कसबा थाना क्षेत्र के अंतर्गत जवाहर नवोदय विद्यालय गढबनैली परिसर की है। घटना के संबंध में गौरव कुमार के रूम पार्टनर शाह आलम और रवि कुमार ने बताया कि गौरव अच्छा लड़का था। हंसी मजाक करना उनकी आदत थी। छुट्टी के बाद वह घर से हॉस्टल पांच जुलाई को आया था। तब से काफी गुमसुम रहता था। रविवार रात के 11 बजे तक वह हम लोगों से हंसी मजाक करते रहा और हंसी मजाक करने के क्रम में वह बीच में काफी मायूस हो गया था। उसने रात को खाना भी वह नहीं खाया था। हम लोगों से मोबाइल फोन लेकर अपने पिता से बात भी की थी। आज चार बजे सुबह वह उठकर शौचालय भी गया था इसके बाद क्या हुआ? इसकी जानकारी हम लोगों को नहीं है।

शव को देखकर छात्र-छात्राओं ने हल्ला मचाना शुरू किया
बताया जाता है सुबह आम के पेड़ से लटका छात्र का शव को देखकर छात्र-छात्राओं ने हल्ला मचाना शुरू किया और इसकी सूचना प्राचार्य को दिया। प्राचार्य अपने सहयोगियों के साथ गौरव की लटकी लाश को नीचे उतारकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कसबा लाया ,जहां डॉक्टरों ने जांच के उपरांत उसे मृत घोषित कर दिया। मृत गौरव कुमार के पिता बनमनखी निवासी पंकज चौधरी के फर्ज बयान पर प्राथमिकी दर्ज की गई।

प्राचार्य बोले- इस कदम से हमलोग काफी मर्माहत हैं
घटनास्थल पर पहुंचे डीएसपी ने वहां की जानकारी ली और काफी छानबीन किया। इसके बाद उन्होंने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए आगे की कार्रवाई के लिए पूरी तरह छानबीन करने की बात बताई। मृतक के शव के पास से रस्सी एवं मोबाइल फोन बरामद किया गया। वहीं प्राचार्य प्रकाश शर्मा ने बताया कि गौरव काफी व्यावहारिक लड़का था। उसके इस कदम से हमलोग काफी मर्माहत हैं। सारे छात्र छात्राओं से इसके बारे में सघन जानकारी ली जा रही है।