रेलवे बोर्ड राज्य को 2 वंदे भारत स्लीपर ट्रेनें आवंटित करने के प्रस्ताव पर विचार कर रहा है: रिपोर्ट

नई दिल्ली
भारतीय रेलवे अपने यात्रियों के लिए जल्द ही एक और खुशखबरी देने वाली है। इस कदम से केरल के यात्रियों को काफी फायदा हो सकता है। रिपोर्ट के मुताबिक, रेलवे बोर्ड राज्य को 2 वंदे भारत स्लीपर ट्रेनें आवंटित करने के प्रस्ताव पर विचार कर रहा है। कोचुवेली से बेंगलुरु और कन्याकुमारी से श्रीनगर के बीच इन ट्रेनों को चलाने का प्लान है। श्रीनगर वंदे भारत कोंकण रूट से होकर जाएगी। जम्मू-कश्मीर में श्रीनगर के पास बडगन स्टेशन तक इसे हफ्ते में 3 बार चलाई जा सकती है। यात्रियों की सुविधा को ध्यान रखते हुए नई ट्रेनें चलाने को लेकर काम जारी है।

रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल दिसंबर में उधमपुर श्रीनगर बारामूला रेलवे ट्रैक चालू होने वाला है। इसके बाद कन्याकुमारी से श्रीनगर के बीच वंदे भारत स्लीपर ट्रेन सर्विस शुरू की जा सकती है। मालूम हो कि वंदे भारत स्लीपर कोच का निर्माण फिलहाल बेंगलुरु में भारत अर्थ मूवर्स लिमिटेड (BEML) कारखाने में चल रहा है। बताया जा रहा है कि 10 रेक पर काम दिसंबर तक पूरा हो जाएगा। अधिकारियों ने बताया कि राजधानी एक्सप्रेस ट्रेनों की तरह वंदे भारत स्लीपर ट्रेनों के सभी डिब्बे एसी वाले होंगे। ऐसे में यात्री अपने सफर को काफी सुविधाजनक तरीके से पूरा कर सकते हैं।

बारिश के चलते ट्रेनों की आवाजाही पर असर
देश के कई हिस्सों में बीते कुछ दिनों से लगातार मध्यम से तेज बारिश हो रही है। इसके चलते ट्रेनों की आवाजाही पर असर पड़ा है। महाराष्ट्र के ठाणे जिले में कसारा और टिटवाला स्टेशन के बीच लोकल ट्रेन सर्विस भारी बारिश और पेड़ गिरने के कारण रविवार सुबह बाधित हो गई। अधिकारियों ने बताया कि सुबह करीब साढ़े 6 बजे भारी बारिश के कारण आटगांव और तानशेट स्टेशन के बीच पटरियों पर मिट्टी आ गई। वाशिंद स्टेशन के पास एक पेड़ गिरने से पटरियां अवरुद्ध हो गईं, जिससे कल्याण-कसारा मार्ग पर रेल यातायात अवरूद्ध हो गया। मध्य रेलवे के एक प्रवक्ता ने कहा कि कसारा और टिटवाला के बीच ट्रेन सेवाएं अस्थायी रूप से रोक दी गई हैं।