नक्सल उन्मूलन अभियान: दो महिला नक्सली सहित चार नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण

सुकमा

जिले में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत छत्तीसगढ़ नक्सलवाद उन्मूलन एवं पुनर्वास नीति एवं सुकमा पुलिस द्वारा चलाये जा रहे "नियद नेल्ला नार योजना से प्रभावित तथा अति संवेदनशील अंदरूनी क्षेत्रों में लगातार कैम्प स्थापित होने से पुलिस के बढ़ते प्रभाव के परिणाम स्वरूप नक्सली संगठन में सक्रिय दो महिला नक्सली सहित चार नक्सलियों ने आज पुलिस अधीक्षक कार्यालय सुकमा में एएसपी नक्सल आॅप्स मनीष रात्रे के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया है। उक्त नक्सलियों को आत्मसमर्पण हेतु प्रोत्साहित कराने में डीआरजी एवं जिला बल सुकमा का विशेष प्रयास रहा है। आत्मसमर्पित नक्सली कई वारदातों में शामिल रहे हैं।

आत्मसमर्पित नक्सलियों में नुप्पो भीमा उर्फ हरिश पिता नन्दा (सिंगाराम आरपीसी अन्तर्गत मलिशिया सदस्य) निवासी मोसलमडगू थाना भेजी जिला सुकमा, पोडि?ाम देवे पिता भीमा (बुर्कलंका आरपीसी अन्तर्गत मलिशिया सदस्य) निवासी बुर्कलंका थाना किस्टाराम जिला सुकमा, पोडि?ाम मासा पिता राजा (बुर्कलंका आरपीसी अन्तर्गत मलिशिया सदस्य) निवासी बुर्कलंका थाना किस्टाराम जिला सुकमा तथा माड़वी पायके पिता हांदा (बुर्कलंका आरपीसी अन्तर्गत मलिशिया सदस्य) निवासी पिनाचन्दा थाना पामेड़ जिला बीजापुर शामिल हैं। सभी आत्मसमर्पित नक्सलियों को छत्तीसगढ़ नक्सलवाद उन्मूलन एवं पुनर्वास नीति के तहत् सहायता राशि व अन्य सुविधायें प्रदान की जाएगी।