बिहार-सीएम नीतीश कुमार की पार्टी का नेता है गोपाल यादुका का हत्यारा: तेजस्वी यादव

पूर्णिया.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कहते रहे हैं कि उनकी सरकार न किसी को फंसाती है और न बचाती है। लेकिन, इस बार तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश के दोनों दावों के खिलाफ अलग अंदाज में जवाब दिया है। उन्होंने सत्ताधारी नेताओं को बचाने और निर्दोषों को फंसाने का आरोप लगाया है।
नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव सीएम नीतीश कुमार और उनकी पार्टी पर बड़ा हमला बोला है।

उन्होंने चर्चित गोपाल यादुका मर्डर केस में जनता दल यूनाईटेड के प्रखंड अध्यक्ष शंभू जायसवाल के शामिल होने का आरोप लगाया। तेजस्वी यादव ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर लिखा कि पूर्णिया के भवानीपुर बाजार में विगत दिनों मारवाड़ी व्यवसायी गोपाल यादुका की अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। तेजस्वी यादव ने कहा कि गोपाल यादुका के परिजनों का आरोप है कि पुलिस सीसीटीवी में कैद मुख्य आरोपियों को बचा रही है तथा किसी और को फंसा रही है। हत्याकांड में सम्मिलित सरकारी पार्टी के पदाधिकारियों को क्यों बचाया जा रहा है? क्या यह संयोग है अथवा प्रयोग कि अधिकांश आपराधिक घटनाओं में संलिप्तता सत्ताधारी दल के नेताओं के इर्द-गिर्द ही क्यों रहती है? पत्रकारों से बातचीत के दौरान तेजस्वी यादव ने कहा कि इस मर्डर केस में जदयू के प्रखंड अध्यक्ष व जमीन कारोबारी शंभू जायसवाल का नाम आ रहा है। तेजस्वी यादव ने आरोप भी लगाया कि पुलिस किसी और को जानबूझकर फंसा रही है। दरअसल, तेजस्वी का इशारा राजद प्रत्याशी बीमा भारती के बेटे राजा पर था। राजा को पुलिस ने इस केस में आरोपी बनाया है। पुलिस ने उसपर हत्या की सुपारी देने का आरोप भी लगाया है।