Modi के नाम पर लगी फाइनल मुहर, दिल्‍ली में जुटे NDA के नवनिर्वाचित सांसद

नई दिल्ली

नरेंद्र मोदी को तीसरी बार देश का प्रधानमंत्री बनाए जाने का प्रस्ताव एनडीए की बैठक में पेश किया गया है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने यह प्रस्ताव रखा, जिस पर सभी ने सहमति जताई। इस मीटिंग से पहले नरेंद्र मोदी ने संविधान को नमन किया। मंच पर उनके बगल में नीतीश कुमार और चंद्रबाबू नायडू बैठे दिखे। पीएम पद के लिए नरेंद्र मोदी के नाम का प्रस्ताव राजनाथ सिंह ने रखा और फिर अमित शाह ने इसका अनुमोदन किया। उन्होंने कहा कि यह सिर्फ हमारी ही इच्छा नहीं है बल्कि देश की 140 करोड़ जनता की यह इच्छा है। देश के हर कोने से यह आवाज आई है कि मोदी जी को देश का नेतृत्व अगले 5 साल करना चाहिए।

वहीं राजनाथ सिंह ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी की दूरदर्शिता को पूरे भारत ने देखा है। हम सभी के लिए प्रसन्नता का विषय है कि एनडीए की सरकार ने 10 साल में देश की सेवा की है, उसकी भारत ही नहीं बल्कि दूसरे देशों में भी प्रशंसा हो रही है। हम लोगों को यह सौभाग्य प्राप्त हुआ है कि तीसरी बार एनडीए की सरकार बनने जा रही है। 1962 के बाद पहली बार कोई नेता लगातार तीसरी बार भारत का पीएम बनने जा रहा है। हमारा सौभाग्य है कि मोदी जी जैसा संवेदनशील प्रधानमंत्री हमें मिलने जा रहा है।

राजनाथ बोले- गठबंधन मजबूरी नहीं, प्रतिबद्धता है

हम सबकी पहचान गठबंधन धर्म का निर्वाह करने से है। यह सिलसिला अटल जी के दौर से ही चला आ रहा है। गठबंधन हमारे लिए मजबूरी नहीं प्रतिबद्धता है। इस बैठक को संबोधित करते हुए चंद्रबाबू नायडू ने आंध्र प्रदेश में टीडीपी की जीत के लिए भाजपा को भी क्रेडिट दिया। उन्होंने कहा कि हम एनडीए सरकार के साथ हैं। पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश ने दुनिया में अपनी धमक दिखाई है। भारत ग्लोबल पावर हाउस बना है। उन्होंने कहा कि हमें देश के विकास के साथ ही क्षेत्रीय आकांक्षाओं का भी ख्याल रखना होगा। नायडू ने कहा कि भारत के पास नरेंद्र मोदी के रूप में सही समय पर सही नेता मौजूद है। 

Recent Posts