जम्मू कश्मीर में अमरनाथ यात्रा के बाद विधानसभा चुनाव, अमित शाह ने BJP नेताओं दिए हैं निर्देश

नई दिल्ली

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 30 की समाप्ति के बाद से ही लोगों को वहां विधानसभा चुनाव का इंतजार है। इसके साथ ही नई सरकार का इंतजार भी खत्म हो जाएगा। अब जो खबर सामने आ रही है उसके मुताबिक, अमरनाथ यात्रा 19 अगस्त को समाप्त हो रही है। इसके बाद जम्मू-कश्मीर में विधानसभा के चुनाव कराए जा सकते हैं। सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बीजेपी नेताओं को चुनाव की तैयारी करने के निर्देश भी दिए हैं।

गुरुवार को देर रात हुई बैठक में अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने जम्मू-कश्मीर भाजपा के कई नेताओं के साथ विधानसभा चुनाव को लेकर बैठक की है। उन्होंने प्रदेश के नेताओं को बताया है कि भाजपा राज्य की सभी 90 सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

आपको बता दें कि अगस्त 2019 में राज्य के विशेष दर्जे को खत्म करने से पहले नवंबर 2018 में जम्मू-कश्मीर की विधानसभा भंग कर दी गई थी। राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित किया गया था।

भाजपा नेतृत्व ने राज्य के नेताओं को यह भी बताया है कि भाजपा राज्य में किसी भी पार्टी के साथ चुनाव पूर्व गठबंधन नहीं करेगी। हालांकि, सूत्रों ने कहा कि सीटों का समायोजन और समान विचारधारा वाले दलों के साथ चुनावी समझौता हो सकता है। इसके अलावा, विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी किसी भी मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार को पेश नहीं करेगी।

आने वाले दिनों में प्रमुख केंद्रीय मंत्रियों और भाजपा के राष्ट्रीय नेताओं के राज्य का दौरा करने की उम्मीद है। पार्टी राज्य में लोगों के साथ एक जनसंपर्क कार्यक्रम भी शुरू करेगी। सूत्रों के अनुसार, भाजपा राज्य के नेतृत्व और संगठन में फिलहाल कोई बदलाव नहीं करेगी। आपको बता दें कि रविंदर रैना प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं।

देर रात करीब दो घंटे तक चली बैठक में रविंद्र रैना, जम्मू-कश्मीर से भाजपा सांसद जितेंद्र सिंह और जुगल किशोर शर्मा के अलावा और भी कई बड़े नेता शामिल हुए। सूत्रों ने यह भी कहा कि जम्मू-कश्मीर, झारखंड, महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनावों की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है।

 

Recent Posts